Trending

तिरुपति टायर्स ₹20 से ₹250 की ओर? मिशेलिन से 350 करोड़ का मेगा ऑर्डर मिला

साणंद (गुजरात) मुख्यालय वाली ममता मशीनरी लिमिटेड ने सेबी के समक्ष दाखिल किया ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी)

जानी-मानी कैंसर विशेषज्ञ डॉ. (प्रोफेसर) ज्योति बाजपेयी ने लीड-मेडिकल एंड प्रिसिजन ऑन्कोलॉजी (मुंबई और महाराष्ट्र क्षेत्र) के रूप में अपोलो कैंसर सेंटर ज्वॉइन किया।

प्रीमियर एनर्जीज लिमिटेड ने अपनी सहायक कंपनियों के साथ अप्रावा एनर्जी से 350 मेगावाट का सोलर मॉड्यूल आपूर्ति का ऑर्डर प्राप्त किया

उर्वशी रौतेला, डिवाइन ब्रिक्स की ब्रांड एंबेसडर, ने 180% मुनाफा वृद्धि के उपलक्ष्य में टीम को 200 फ्लैट्स पुरस्कार स्वरूप प्रदान किए; संस्थापक महेंदर सिंह उपस्थित रहे  

एपीएस स्पोर्ट्स प्रायोजित ऐतिहासिक महिला कबड्डी लीग का दुबई में होगा आगाज़

 


Jaipur (Rajasthan) [India] : एपीएस स्पोर्ट्स द्वारा महिला कबड्डी लीग (WKL) की शुरुआत की जा रही है। महिला कबड्डी लीग एक अहम पहल है जो कबड्डी और महिला खेल में क्रांति लाने के साथ ही खिलाड़ियों और कबड्डी प्रशंसकों को प्रेरित करने का उद्देश्य रखती है। इस लीग के अद्भुत नवाचारों के साथ, यह लीग 16 जून से दुबई में आरंभ होने जा रही है, जो वैश्विक खेल समुदाय में उत्साह पैदा कर रही है। लीग के दौरान 120 से अधिक महिला कबड्डी खिलाड़ी लीग में भाग लेगी साथ ही कई विश्वस्तरीय और राष्ट्रिय स्तर के कबड्डी कोच खिलाड़ियों का मार्गदर्शन करेंगे। 

 

महिला कबड्डी खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों और उत्साही लोगों के नेतृत्व में, महिला कबड्डी लीग महिलाओं के खेल के लिए एक प्रमुख उपलब्धि का प्रतिनिधित्व करती है, जो देश भर में महिला कबड्डी एथलीटों की असाधारण प्रतिभा और कौशल को उजागर करती है। पंजाब और तमिलनाडु से शुरू हुआ खेल आज दुनिया भर में अपनी अलग पहचान बना कनाडा, पाकिस्तान, ईरान जैसे कई अन्य देशों में प्रचलित है। 

 

WKL/ डब्लूकेएल की प्रबंधन टीम, खेल बिरादरी के प्रमुख लोगों से सुसज्जित हैं, जिनमें निदेशक और सीईओ के रूप में प्रदीप कुमार नेहरा कार्य कर रहे हैं। नेहरा ने दुबई में लीग की मेजबानी के लिए अपना उत्साह व्यक्त करते हुए कहा, दुबई एक जीवंत शहर है जो इस महिला कबड्डी लीग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने का अवसर प्रदान करेगा और एक कबड्डी के प्रशंसक होने के नाते, हम विशालकाय स्टेडियम में लीग मैचों के लिए बड़ी संख्या में दर्शकों के उपस्थिति की अपेक्षा करते है। आगे नेहरा का कहना है कि महिला कबड्डी लीग के माध्यम से महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना, जो इस लीग के प्राथमिक उद्देश्यों में से एक है, यह लीग महिला कबड्डी खिलाड़ियों को बढ़ावा और उनके खेल कौशल को सशक्त करने के लिए हैं।

 

WKL के एमडी के रूप में गरिमा चौधरी के अलावा सुरेंद्र कुमार ढाका और जयप्रकाश सिंह डायरेक्टर के रूप में शामिल हैं, जो लीग के रणनीतिक प्रबंधन में योगदान करते हैं। श्री आर.डी. कौशिक और श्री महावीर सिंह तकनीकी अधिकारी, श्री होशियार सिंह चीफ कोच, श्री मोहन सिंह भामू चीफ रेफरी, श्री भूपेंद्र सिंह, श्री जय वीर सिंह, श्री मिस्टर जगदीश प्रसाद गढ़वाल, अमित जाखड़, रविता फौजदार कोच के रूप में शामिल हैं, सीमा टकसाक शारीरिक शिक्षा एवं कोच के रूप में प्रोफेसर, और डॉ. नीति माथुर और डॉ. सोनाली कुशवाहा फिजियो रूप में हैं, इस अनुभवी टीम में सभी अपनी-अपनी भूमिकाओं और खेल के लिए समर्पित हैं

 

महिला कबड्डी लीग ने कबड्डी की दुनिया के कई प्रसिद्ध नामों से समर्थन प्राप्त किया है, जिनमें प्रदीप नरवाल, संदीप नरवाल, मनिंदर सिंह और सुरेंद्र नाडा जैसे अंतरराष्ट्रीय कबड्डी खिलाड़ी और स्वर्ण पदक विजेता शामिल हैं। उनका समर्थन महिला कबड्डी लीग की प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता को बढ़ाता है।

 

WKL महिला खेलों के वैश्विक परिदृश्य को बदलने के लिए तैयार है।

 

महिला कबड्डी लीग के कई उल्लेखनीय पहलुओं में से इसका विशेष ध्यान , भारत के पिछड़े और ग्रामीण क्षेत्रों के खिलाड़ियों पर है। जो इन प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के लिए एक मंच प्रदान करके, ग्रामीण क्षेत्रों में मौजूद अपार संभावनाओं को सशक्त बनाना और उन्हें विश्व पटल पर प्रदर्शित करना है। इससे, नयी पीढ़ी को मोटिवेट करने, उन्नति करने, और अपने प्रतियोगिताओं के साथ प्रभावी रूप से मुकाबला करने का एक मंच मिलेगा। महिला कबड्डी लीग का एक प्रमुख पार्टनर एपीएस स्पोर्ट्स इवेंट मैनेजमेंट है, जो खेल के प्रबंधन, संचालन और सभी आयोजनों को संभालने के लिए जिम्मेदार है। यह एक प्रमुख खेल प्रबंधन कंपनी है जिसका उद्देश्य है खेल के क्षेत्र में नये और उत्कृष्ट अनुभव प्रदान करना।

 

हाल ही हुई नीलामी में कई शीर्ष खिलाड़ियों के लिए ऐतिहासिक बोली लगाई गई, जिसमें एक खिलाड़ी के लिए सबसे अधिक 33 लाख रुपए की बोली लगाई गई है। यह महत्वपूर्ण बोली महिला कबड्डी के प्रति रोमांच और लोकप्रियता को दर्शाती हैं।

 

12 दिन, 8 टीमें और 31 मैच

 

लीग में भाग ले रही आठ  टीमें एक दूसरे से टक्कर लेने के लिए तैयार हैं। इन प्रतिस्पर्धी टीमों में राजस्थान रेडर्स, दिल्ली डायनामाइट्स, गुजरात एन्जिल्स, ग्रेट मराठा, हरियाणा हसलर्स, पंजाब पैंथर्स, उमा कोलकाता और बेंगलुरु हॉक्स शामिल हैं। प्रत्येक टीम अपनी अकल्पनीय प्रतिभा, रणनीति और दृढ़ संकल्प के एक अद्वितीय मिश्रण का प्रतिनिधित्व करती है, जो खेल भावना और खेल में महिलाओं के सशक्तिकरण का प्रतीक है।

 

इस लीग में हरविंदर कौर (सीनियर नेशनल कबड्डी प्लेयर, गोल्ड मेडलिस्ट) और मोती चंदन (नेशनल कबड्डी प्लेयर - एशियन गेम्स) जैसी प्रमुख खिलाड़ी अपने कौशल का प्रदर्शन करते हुए लीग की सफलता में योगदान देंगी।

 

16 जून से 27 जून तक चलने वाली यह महिला कबड्डी लीग अपनी तेज-तर्रार एक्शन, तीव्र प्रतिद्वंद्विता और अद्वितीय खेल कौशल के रोमांचकारी प्रदर्शन से दर्शकों को लुभाने का वादा करती है। लीग के प्रारूप में प्लेऑफ के बाद राउंड-रॉबिन प्रतियोगिता होगी, जिससे चैंपियनशिप खिताब के लिए एक दिलचस्प लड़ाई भी देखने मिलेगी।

 

महिला कबड्डी लीग के मेजबान स्थल के रूप में दुबई के प्रतिष्ठित 'शबाब अल अहली' स्पोर्ट्स क्लब को चुना गया है। जो अपने विश्व स्तरीय खेल सुविधाओं के लिए जाना जाता है, इस आयोजन स्थल का अत्याधुनिक बुनियादी ढांचा और दर्शकों की बैठक क्षमता, कबड्डी प्रेमियों के लिए एक अविस्मरणीय अनुभव प्रदान करेगा। बीते कुछ वर्षों में कबड्डी की बढ़ती लोकप्रियता के साथ, यह लीग अपने तेज-तर्रार एक्शन और प्रतिस्पर्धी खेल भावना के साथ दर्शकों को लुभाने के लिए तैयार है और लीग का लाइव कवरेज दुनियाभर के प्रशंसकों को इन प्रतिभाशाली एथलीटों द्वारा नियोजित अविश्वसनीय कौशल और रणनीतियों को देखने के लिए आतुर करेगा, जिससे महिला कबड्डी की लोकप्रियता को बढ़ावा मिलेगा।

 

महिला कबड्डी लीग महिलाओं के खेल के परिदृश्य को पुनः परिभाषित करने के लिए तैयार है, जो कबड्डी की दृश्यता और मान्यता को एक मुख्यधारा में लाने का कार्य करेगी। लीग की शुरुआत एक मील का पत्थर होने का वादा करती है, जो एथलेटिसिज्म, टीम वर्क और स्पोर्ट्समैनशिप की भावना को उजागर करती है। 

 


Post a Comment

Previous Post Next Post

Contact Form