Trending

महिला उद्यमियों के सशक्तिकरण के लिए वूमन एंटरप्रेन्योरशिप प्लेटफॉर्म व ट्रांसयूनियन सिबिल ने शुरू किया प्रोग्राम 'सहर'

साणंद (गुजरात) मुख्यालय वाली ममता मशीनरी लिमिटेड ने सेबी के समक्ष दाखिल किया ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी)

नेक्स्ट भारत वेंचर्स – सुजुकी की पहल, भारत के उद्यमियों को सशक्त बनाने और नेक्स्ट बिलियन भारतीयों की समस्याओं का समाधान करने के लिए 340 करोड़ रुपये का फंड लॉन्च

एनवायरो इंफ्रा इंजीनियर्स लिमिटेड ने सेबी के पास दाखिल किया ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी)

जानी-मानी कैंसर विशेषज्ञ डॉ. (प्रोफेसर) ज्योति बाजपेयी ने लीड-मेडिकल एंड प्रिसिजन ऑन्कोलॉजी (मुंबई और महाराष्ट्र क्षेत्र) के रूप में अपोलो कैंसर सेंटर ज्वॉइन किया।

यूएसएसईसी के SUSTAINASUMMIT ने सतत, जलवायु-अनुकूल प्रणालियों के माध्यम से खाद्य सुरक्षा को आगे बढ़ाने पर चर्चा की

 


दुबईयूएई | भारत

कृषि व्यवसाय में अग्रणी एवं उद्योग के दूरदर्शी व्यवसायियों ने अमेरिकी सोयाबीन निर्यात परिषद (USSEC) के वार्षिक Sustainasummit 2024 दुबई सम्मेलन में भाग लिया। इस दौरान सम्मेलन में स्मार्ट संरक्षण इनिशियेटिव, टिकाऊ कृषि पद्धतियों, खाद्य खेती उत्पादन, वितरण व खपत में अभूतपूर्व प्रगति पर चर्चा हुई। विश्व बैंक के अनुसार, दक्षिण एशिया एक “नए जलवायु सामान्य” का अनुभव कर रहा है जो ऊष्म लहरों, चक्रवात, सूखा और बाढ़ सहित अप्रत्याशित मौसम के रूप में जाना जाता है। बढ़ती आबादी एवं बढ़ते तापमान के दृष्टिगत दक्षिण एशिया क्षेत्र में खाद्य एवं पोषण सुरक्षा पर जलवायु परिवर्तन प्रभाव के समाधान के अपने प्रयासों में तेजी लाने की आवश्यकता है।

(बाएं से दाएं चित्रित) केविन रोएपके, क्षेत्रीय निदेशक – एसएएएसएसए, यूएसएसईसी, सुजैन शिरब्रौन, अध्यक्ष, आयोवा सोयाबीन एसोसिएशन, एबी रिने, स्थिरता निदेशक, यूएसएसईसी, ब्रेंट स्वार्ट, राष्ट्रपति चुनाव, आयोवा सोयाबीन एसोसिएशन, स्टेन बोर्न, अध्यक्ष, यूएसएसईसी और किर्क लीड्स, सीईओ, आयोवा सोयाबीन एसोसिएशन

यूएसएसईसी के दक्षिण एशिया  उपसहारा अफ्रीका (एसएएएसएसएके क्षेत्रीय निदेशक केविन रोएपके ने जलवायु अनुकूल खाद्य प्रणाली निर्माण की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा, “यूएसएसईसी के Sustainasummit के साथ हम एक मजबूत वैश्विक खाद्य प्रणाली विकसित करने के लिए यूएस सोया जैसे प्रभावी अवयवों का उपयोग करने के महत्व के बारे में खाद्य और कृषि-व्यवसायों के बीच रणनीतिक बातचीत को बढ़ावा देना चाहते हैं। यूएस सोया अपने उच्च पोषण गुण और विश्वसनीय आपूर्ति के कारण प्रोटीन की दक्षिण एशिया की बढ़ती मांग को स्थायी रूप से पूरा करने के लिए विशिष्ट रूप से उपयुक्त है।”

यूएसएसईसी की यूएस सोया मार्केटिंग एंड सस्टेनेबिलिटी – एसएएएसएसए के क्षेत्रीय प्रमुख डीबा गियानौलिस ने कहा, “आज के वैश्विक उपभोक्ता अनुकूल उत्पादों और कच्चे माल की सोर्सिंग को लेकर अधिक पारदर्शिता को लेकर मुखर रहते हैं। Sustainasummit उद्योगों में व्यापक स्थिरता मानकों को स्थापित करने के लिए हमारी प्रतिबद्धता का प्रतिनिधित्व करता है, जिससे व्यवसायों को जिम्मेदारी से संसाधनों की खरीद करने में सक्षम बनाया जा सके। उदाहरण के लिए, श्रीलंका में ग्यारह पोल्ट्री कंपनियों द्वारा समर्थित ‘फेड विद सस्टेनेबल यूएस सोया‘ लेबल, हमारे प्रयासों का एक उदाहरण है।

यह पहल कड़े यूएस सोया सस्टेनेबिलिटी एश्योरेंस प्रोटोकॉल (एसएसएपी) का पालन सुनिश्चित करती है, जो अमेरिकी सोया किसानों की जैव विविधता और उत्पादन विधियों जैसे क्षेत्रों में सस्टेनेबल विधियों की गारंटी प्रदान करती है। Sustainasummit जैसी विलक्षण पहल के साथ हमारा लक्ष्य इसी तरह के नवाचारों को उत्प्रेरित करना है जो एक हरित, अधिक पौष्टिक भविष्य का मार्ग प्रशस्त करते हैं।

विश्व बैंक – दक्षिण एशिया में जलवायु और विकास

खाद्य सुरक्षा प्राप्त करने के लिए वैज्ञानिक महत्ता पर बात करते हुएआईएसएएए-बायोट्रस्ट के वैश्विक समन्वयक और मलेशियाई जैव प्रौद्योगिकी सूचना केंद्र (एमएबीआईसी) के कार्यकारी निदेशक डॉमहालेचुमी अरुजानन ने कहा, “स्थिरता के स्तंभ विज्ञान पर निर्मित हैं। विज्ञान ग्रीनहाउस गैसों को कम करने, उत्पादकता बढ़ाने, रसायनों का जिम्मेदारी से उपयोग करने, कचरे को कम करने और संसाधनों के उपयोग को अनुकूलित करके कृषि उद्योग द्वारा उत्पन्न चिन्हों को कम करने का समाधान प्रदान करता है। विज्ञान खाद्य सुरक्षा का समर्थन करता है और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देता है। जैव प्रौद्योगिकी इसके केंद्र में है एवं पर्यावरण व सामाजिक-आर्थिक प्रगति का समर्थन करता है।

अन्य स्थानों पर उत्पन्न सोया की तुलना में अमेरिकी सोया के सबसे कम कार्बन पदचिह्न पर विचार करते हुएयूएसएसईसी में सस्टेनेबिलिटी निदेशक एबी रिने ने कहा, “हमारे यूएस सोया किसान अपने 2025 स्थिरता लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए नवाचार और प्रौद्योगिकी के माध्यम से निरंतर सुधार के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसमें कुल ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन और भूमि उपयोग को 10% तक कम करना जबकि ऊर्जा दक्षता में 10% की वृद्धि करना शामिल है। यूएस सोया किसान कम संसाधनों का उपयोग करते हुए अधिक उत्पादन करके मार्ग प्रशस्त कर रहे हैं, कार्बन पदचिह्न को कम करने वाली कृषि प्रणालियों को लागू कर रहे हैं और वन्य भूमि को संरक्षित करने में सहायता कर रहे हैं।

Sustainasummit 2024 से एक आवर्ती विषय यह था कि कृषि समस्या नहीं है; यह समाधान है। जलवायु चुनौतियों से निपटने के लिए नीतिगत ढांचे में एक आदर्श बदलाव की आवश्यकता पर प्रकाश डालते हुए, यूसी डेविसकैलिफोर्निया में पशु विज्ञान के प्रोफेसर फ्रैंक एम मिटलोहनर ने कहा, “किसान जलवायु समाधान का हिस्सा हो सकते हैं लेकिन इसे प्राप्त करने के लिए, हमें स्वैच्छिक और प्रोत्साहन-आधारित नीतियों की क्षमता को अपनाने की आवश्यकता है।

Sustainasummit एक उल्लेखनीय उत्सव था दौरान जहां श्रीलंका के दो अन्य यूएस सोया ग्राहकों; इमो चिकन एंड एग्रो प्राइवेट लिमिटेड और फॉर्च्यून एग्रो इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड ने अपनी पैकेजिंग पर ‘फेड विद सस्टेनेबल यूएस सोय’ लेबल को अपनाने के लिए लाइसेंसिंग समझौतों पर हस्ताक्षर किए। इससे एक वर्ष से भी कम समय में लेबल प्रयोक्ताओं की कुल संख्या ग्यारह हो जाती है। लेबल के साथ यूएस सोया ग्राहकों का लक्ष्य बाजार में अपने उत्पादों को बढ़ावा देना और विशिष्य बनाना है क्योंकि वे स्थिरता और आपूर्ति श्रृंखला पारदर्शिता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित करते हैं।

इलिनोइस सोयाबीन एसोसिएशन, आयोवा सोयाबीन एसोसिएशन और यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर (यूएसडीए) द्वारा समर्थित, Sustainasummit 2024 ने इस उद्योग से जुड़े अनेक विचारकों के साथ सार्थक बातचीत की मेजबानी की, जिनमें शामिल हैं; स्टेन बॉर्न, USSEC के चेयरमैन, सुजैन शिरब्रौन, अध्यक्ष, आयोवा सोयाबीन एसोसिएशन, किर्क लीड्स, सीईओ, आयोवा सोयाबीन एसोसिएशन, ब्रेंट स्वार्ट, प्रेसिडेंट इलेक्ट- आयोवा सोयाबीन एसोसिएशन, पुनीत तोमर, यूरोमॉनिटर इंटरनेशनल में ग्लोबल प्रोजेक्ट मैनेजर, समीरा फर्नांडीस, निदेशक कॉर्पोरेट अफेयर्स एंड सस्टेनेबिलिटी, सेंचुरी फाइनेंशियल, सोहेल तनवीर खान, बिजनेस डायरेक्टर, ACI लॉजिस्टिक्स लिमिटेड (स्वापनो) और संजीव अस्ताना, सीईओ, पतंजलि।

यूएस सोयाबीन निर्यात परिषद (USSEC) के बारे में

यूएस सोयाबीन एक्सपोर्ट काउंसिल (USSEC) वैश्विक स्तर पर 80 से अधिक देशों में मानव उपभोग, जलीय कृषि और पशुधन फ़ीड के लिए यूएस सोया के उपयोग के लिए बाजार पहुंच को अलग करने, वरीयता बनाने और बढ़ाने पर कार्य करता है। यूएसएसईसी सदस्य यूएस सोया किसानों, प्रोसेसर, कमोडिटी शिपर्स, व्यापारियों, संबधित कृषि व्यवसायों और कृषि संगठनों सहित सोया आपूर्ति श्रृंखला का प्रतिनिधित्व करते हैं। USSEC को अमेरिकी सोयाबीन चेकऑफ़, USDA विदेशी कृषि सेवा (FAS) मैचिंग निधि एवं उद्योग द्वारा वित्त पोषित किया जाता है।

कृपया अधिक जानकारी व ताजा खबरों के लिए www.ussec.org पर विज़िट करें या लिंक्डइन पर USSEC को फॉलो करें।

यह प्रेस विज्ञप्ति आंशिक रूप से यूएस सोया किसानों, उनके चेकऑफ और सोया मूल्य श्रृंखला द्वारा वित्त पोषित है।

Post a Comment

Previous Post Next Post

Contact Form