Ads Right Header

Buy template blogger

सीए (डॉ.) शंकर घनश्यामदास अंदानी मुख्य अतिथी तथा जीवन गौरव राष्ट्रीय पुरस्कार से सन्मानित हुए

 


ऐस्ट्रोवर्ल्ड कांक्लेव २०२४ इस राष्ट्रीय कार्यक्रम मे फेम फाइनडर इंडिया मिडीया प्राइवेट इस राष्ट्र संस्था द्वारा जोतिश दशा इस विषय पर एक दिवसीय चर्चा सत्र का आयोजन ०६ जनवरी २०२४ को न्यू दिल्ली एन सि आर स्थित कंस्टीट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया मे अनेक राष्ट्रीय गणमान्य हस्तियो द्वारा किया गया था.
इस कार्यक्रम मेअनेक सामाजिक विभूतियो का जीवन गौरव सन्मान किया गया था. इसी कार्यक्रम मे अपना पुरा जीवन सामाजिक सेवा मे व्यतीत करणे वाले सीए(डॉ.) शंकर घनश्यामदास अंदानी इनको २०२४ जीवन गौरव पुरस्कार से सन्मानित किया गया तथा प्रमुख अतिथी के रूप मे सन्मानित किया गया.
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथी राजमानी पटेल जी, डो. दिव्या तवर, शरद कुमार गुप्ता, सी. ए. नरेश चंद्र बन्सल ये थे.
दिनभर अनेक विद्वानो द्वारा चर्चासत्र मे भाग लिया गया.
चार्टर्ड अकाउंटेंट और सामाजिक कार्यकर्त्ता सीए डॉ. शंकर घनश्यामदास अंदानी , के नाम पार आज ८३ विश्व रेकॉर्ड दर्ज है.
तथा उन्हे उनके सामाजिक कार्य के लिये आज तक १६०० आंतरराष्ट्रीय तथा राष्ट्रिय पुरस्कार से सन्मानित किया जा चुका ही.
सीए देश में अर्थशास्त्र के विशेषज्ञ की तरह कार्य करते हैं और आर्थिक व्यवस्था की परंपरा सुनिश्चित करने में उनका काफी महत्व है। चार्टर्ड अकाउंटेंट्स (सीए) की देश के आर्थिक विकास में अहमियत होती है। भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंसी सबसे प्रतिष्ठित व्यवसायों में से एक है।
इसी विषय पर फेम फाइंडर्स ने पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट और सामाजिक कार्यकर्त्ता डॉ. शंकर घनश्यामदास अंदानी से बात की। डॉ. अंदानी, साईं एंड कंपनी के नाम से संस्था चलाते हैं जो कि एक चार्टर्ड एकाउंटेंट्स फर्म है। जिसका कार्यालय अहमदनगर, महाराष्ट्र में स्थित है। 2006 में जब वह प्रैक्टिस कर रहे थे तब ही उन्होंने सीए की परीक्षा पास कर ली थी। चार्टर्ड एकाउंटेंट्स में शामिल होने से पहले, वह टैक्सेशन में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम में बतौर सहायक प्रोफेसर काम करते थे।
कलेक्टर कार्यालय, जिला आपदा प्रबंधन कार्यालय और नगर निगम ने साईं एंड कंपनी को उनके पहले वर्ष से ही लगन और कड़ी मेहनत के कारण उत्कृष्ट कार्य को देखते हुए महत्वपूर्ण कार्य असाइनमेंट्स सौंपे हैं।
अंतर्राष्ट्रीय टैक्सेशन में टैक्सेशन का गहन ज्ञान प्राप्त करने के लिए, उन्हें श्री साईं बाबा ट्रस्ट, शिरडी- (भारत में नंबर दो धर्मार्थ ट्रस्ट) के लिए एक आयकर और जीएसटी सलाहकार के रूप में नियुक्त किया गया था, जिसे वो पिछले 15 वर्षों से कर रहे हैं।
हर साल भारतीय रिजर्व बैंक सीए फर्मों को उनके अभ्यास कार्य और अनुभव के अनुसार 1 से 4 श्रेणियों में वर्गीकृत करता है। इस वर्गीकरण के अनुसार ‘साईं एंड कंपनी’ आरबीआई के पैनलबद्ध “श्रेणी 1” की सी.ए. फर्म है। राज्य स्तरीय निगम विभाग में, जो सहकारी बैंकों, क्रेडिट समितियों और अन्य सहकारी दुग्ध और आवास समितियों को नियंत्रित करता है, वह सरकारी कार्यालय सीए फर्मों को उनके अभ्यास कार्य और अनुभव के अनुसार ‘ए से ‘डी’ श्रेणियाों में वर्गीकृत भी करता है और इस वर्गीकरण में (डॉ.) शंकर घनश्यामदास अंदानी की फर्म ‘साईं एंड कंपनी’ पैनलबद्ध “श्रेणी ए-1” की सी.ए. फर्म है.
डॉ. अंदानी पिछले 16 वर्षों से अभ्यास कर रहे हैं और उनके पास काम का बड़ा अनुभव है।डॉ. अंदानी के सामाजिक कार्यों में रुचि होने के कारण वो पिछले 15 सालों से हर साल 200 से अधिक ट्रस्टों, एनजीओ, मंदिर और मस्जिद, चर्च के लिए मुफ्त में टैक्स और अक्कौन्टिंग कंसल्टेंसी का काम करते आ रहे है.
वे पिछले 16 वर्षों से अहमदनगर नगर निगम और जिला परिषद, विभिन्न पंचायत समिति और नेवासा नगर पंचायत, कलेक्टर कार्यालय और अन्य कार्यालयों के लिए आयकर और जीएसटी सलाहकार के रूप में भी काम कर रहे हैं।
साईं एंड कंपनी AN ISO 9001-2008 है, जिसे महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में मान्यता प्राप्त है, उनकी कंपनी सभी सरकारी कार्यालयों में कार्य असाइनमेंट कर रही है। डॉ. अंदानी पिछले दो वर्षों से गौशाला भी चला रहे हैं और धर्मार्थ और धार्मिक कार्य करने के लिए दस से अधिक धर्मार्थ ट्रस्टों से भी जुड़े हुए हैं।
सीए (डॉ.) शंकर अंदानी को ओएसिस वर्ल्ड रिकॉर्ड्स की ओर से साल 2022 के बेस्ट सीए के रूप में पुरुस्कृत किया गया है , उन्हें ग्लोबल स्कॉलर फाउंडेशन की ओर से भारतीय सेवा रत्न पुरस्कार भी मिला है। अंदानी को अंतर्राष्ट्रीय थियोफनी विश्वविद्यालय, मैजिक बुक ऑफ रिकॉर्ड व विश्व मानव अधिकार संरक्षण आयोग की ओर से डॉक्टरेट की उपाधि मिली है।
इंडियन इंटरनेशनल अचीवमेंट अवार्ड 2022, मेरा भारत एजुकेशनल ट्रस्ट की ओर से प्राइड ऑफ इंडिया अवार्ड के लिए, ग्लोबल यूथ अचीवमेंट द्वारा गौरव श्री सम्मान के लिए, भारतीय समाज सेवा ट्रस्ट द्वारा ISST ICON अवार्ड- 2022 के लिए, हिंदुस्तान रत्न पुरस्कार के लिए और महात्मा गांधी सेवा रत्न पुरस्कार के लिए उन्हें नामांकित किया गया है.
ग्लैंटर एक्स मीडिया द्वारा 2022 में 100 शक्तिशाली व्यक्तित्वों के लिए डॉ. अंदानी को चयनित किया गया है। उन्हें इंडियन इंटरनेशनल अचीवमेंट अवार्ड 2022, वाइब्रेंट फाउंडेशन की ओर से यूथ आइकॉन ऑफ द ईयर, वर्ल्ड चैरिटी वेलफेयर फाउंडेशन की ओर से इंटरनेशनल सोशल ऑनरेबल अवार्ड, रेड इनो की ओर से ग्लोबल प्रोफेशनल अवार्ड, भारतीय एकता सम्मान पुरस्कार, टीपीएल टेक्नो बिजनेस अवार्ड 2022, इंडियन सीएसआर अवार्ड 2022, इंटरनेशनल ग्लोरी अवार्ड 2022, इंडियन आइकन अवार्ड व अन्य और भी कई पुरुस्कारों से सम्मानित किया गया है.
सीए (डॉ.) शंकर अंदानी एक बहुत ही मेहनती और प्रतिबद्ध पेशेवर हैं और साथ ही एक सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं, जो अपने ग्राहकों को उनके जीवन की चुनौतियों को दूर करने और वित्तीय क्षेत्र में विकास करने में एक अनुभवी सहायक के रूप में मदद करते हैं. जीवन में उनका मुख्य ध्यान इस बात पर होता है कि कमाई कैसे की जाए, जीवन में बचत कैसे बढ़ाई जाए और इस अनिश्चित जीवन में भविष्य की सुरक्षा के लिए प्रत्येक व्यक्ति के धन में वृद्धि की जाए।
डॉ. अंदानी दूसरों की मदद करने में कभी नहीं हिचकिचाते हैं। उनका मुख्य उद्देश्य गरीबी से उबरने के लिए सभी के जीवन में सुधार करना है और एक लोगों को एक बेहतर जीवन देना है। उनका लक्ष्य सभी जरूरतमंद लोगों को सर्वोत्तम शिक्षा देना हैं क्योंकि उनके अनुसार शिक्षा से जीवन शैली को बदला जा सकता है।
देश के आर्थिक तरक्की के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट का योगदान अत्यंत महत्वपूर्ण है: सीए (डॉ.) शंकर घनश्यामदास अंदानी
सीए देश में अर्थशास्त्र के विशेषज्ञ की तरह कार्य करते हैं और आर्थिक व्यवस्था की परंपरा सुनिश्चित करने में उनका काफी महत्व है। चार्टर्ड अकाउंटेंट्स (सीए) की देश के आर्थिक विकास में अहमियत होती है। भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंसी सबसे प्रतिष्ठित व्यवसायों में से एक है।
इसी विषय पर फेम फाइंडर्स ने पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट और सामाजिक कार्यकर्त्ता डॉ. शंकर घनश्यामदास अंदानी से बात की। डॉ. अंदानी, साईं एंड कंपनी के नाम से संस्था चलाते हैं जो कि एक चार्टर्ड एकाउंटेंट्स फर्म है। जिसका कार्यालय अहमदनगर, महाराष्ट्र में स्थित है। 2006 में जब वह प्रैक्टिस कर रहे थे तब ही उन्होंने सीए की परीक्षा पास कर ली थी। चार्टर्ड एकाउंटेंट्स में शामिल होने से पहले, वह टैक्सेशन में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम में बतौर सहायक प्रोफेसर काम करते थे।
कलेक्टर कार्यालय, जिला आपदा प्रबंधन कार्यालय और नगर निगम ने साईं एंड कंपनी को उनके पहले वर्ष से ही लगन और कड़ी मेहनत के कारण उत्कृष्ट कार्य को देखते हुए महत्वपूर्ण कार्य असाइनमेंट्स सौंपे हैं।
अंतर्राष्ट्रीय टैक्सेशन में टैक्सेशन का गहन ज्ञान प्राप्त करने के लिए, उन्हें श्री साईं बाबा ट्रस्ट, शिरडी- (भारत में नंबर दो धर्मार्थ ट्रस्ट) के लिए एक आयकर और जीएसटी सलाहकार के रूप में नियुक्त किया गया था, जिसे वो पिछले 15 वर्षों से कर रहे हैं।
हर साल भारतीय रिजर्व बैंक सीए फर्मों को उनके अभ्यास कार्य और अनुभव के अनुसार 1 से 4 श्रेणियों में वर्गीकृत करता है। इस वर्गीकरण के अनुसार ‘साईं एंड कंपनी’ आरबीआई के पैनलबद्ध “श्रेणी 1” की सी.ए. फर्म है। राज्य स्तरीय निगम विभाग में, जो सहकारी बैंकों, क्रेडिट समितियों और अन्य सहकारी दुग्ध और आवास समितियों को नियंत्रित करता है, वह सरकारी कार्यालय सीए फर्मों को उनके अभ्यास कार्य और अनुभव के अनुसार ‘ए से ‘डी’ श्रेणियाों में वर्गीकृत भी करता है और इस वर्गीकरण में (डॉ.) शंकर घनश्यामदास अंदानी की फर्म ‘साईं एंड कंपनी’ पैनलबद्ध “श्रेणी ए-1” की सी.ए. फर्म है.
डॉ. अंदानी पिछले 16 वर्षों से अभ्यास कर रहे हैं और उनके पास काम का बड़ा अनुभव है।डॉ. अंदानी के सामाजिक कार्यों में रुचि होने के कारण वो पिछले 15 सालों से हर साल 200 से अधिक ट्रस्टों, एनजीओ, मंदिर और मस्जिद, चर्च के लिए मुफ्त में टैक्स और अक्कौन्टिंग कंसल्टेंसी का काम करते आ रहे है.
वे पिछले 16 वर्षों से अहमदनगर नगर निगम और जिला परिषद, विभिन्न पंचायत समिति और नेवासा नगर पंचायत, कलेक्टर कार्यालय और अन्य कार्यालयों के लिए आयकर और जीएसटी सलाहकार के रूप में भी काम कर रहे हैं।
साईं एंड कंपनी AN ISO 9001-2008 है, जिसे महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में मान्यता प्राप्त है, उनकी कंपनी सभी सरकारी कार्यालयों में कार्य असाइनमेंट कर रही है। डॉ. अंदानी पिछले दो वर्षों से गौशाला भी चला रहे हैं और धर्मार्थ और धार्मिक कार्य करने के लिए दस से अधिक धर्मार्थ ट्रस्टों से भी जुड़े हुए हैं।
सीए (डॉ.) शंकर अंदानी को ओएसिस वर्ल्ड रिकॉर्ड्स की ओर से साल 2022 के बेस्ट सीए के रूप में पुरुस्कृत किया गया है , उन्हें ग्लोबल स्कॉलर फाउंडेशन की ओर से भारतीय सेवा रत्न पुरस्कार भी मिला है। अंदानी को अंतर्राष्ट्रीय थियोफनी विश्वविद्यालय, मैजिक बुक ऑफ रिकॉर्ड व विश्व मानव अधिकार संरक्षण आयोग की ओर से डॉक्टरेट की उपाधि मिली है।
इंडियन इंटरनेशनल अचीवमेंट अवार्ड 2022, मेरा भारत एजुकेशनल ट्रस्ट की ओर से प्राइड ऑफ इंडिया अवार्ड के लिए, ग्लोबल यूथ अचीवमेंट द्वारा गौरव श्री सम्मान के लिए, भारतीय समाज सेवा ट्रस्ट द्वारा ISST ICON अवार्ड- 2022 के लिए, हिंदुस्तान रत्न पुरस्कार के लिए और महात्मा गांधी सेवा रत्न पुरस्कार के लिए उन्हें नामांकित किया गया है.
ग्लैंटर एक्स मीडिया द्वारा 2022 में 100 शक्तिशाली व्यक्तित्वों के लिए डॉ. अंदानी को चयनित किया गया है। उन्हें इंडियन इंटरनेशनल अचीवमेंट अवार्ड 2022, वाइब्रेंट फाउंडेशन की ओर से यूथ आइकॉन ऑफ द ईयर, वर्ल्ड चैरिटी वेलफेयर फाउंडेशन की ओर से इंटरनेशनल सोशल ऑनरेबल अवार्ड, रेड इनो की ओर से ग्लोबल प्रोफेशनल अवार्ड, भारतीय एकता सम्मान पुरस्कार, टीपीएल टेक्नो बिजनेस अवार्ड 2022, इंडियन सीएसआर अवार्ड 2022, इंटरनेशनल ग्लोरी अवार्ड 2022, इंडियन आइकन अवार्ड व अन्य और भी कई पुरुस्कारों से सम्मानित किया गया है.
सीए (डॉ.) शंकर अंदानी एक बहुत ही मेहनती और प्रतिबद्ध पेशेवर हैं और साथ ही एक सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं, जो अपने ग्राहकों को उनके जीवन की चुनौतियों को दूर करने और वित्तीय क्षेत्र में विकास करने में एक अनुभवी सहायक के रूप में मदद करते हैं. जीवन में उनका मुख्य ध्यान इस बात पर होता है कि कमाई कैसे की जाए, जीवन में बचत कैसे बढ़ाई जाए और इस अनिश्चित जीवन में भविष्य की सुरक्षा के लिए प्रत्येक व्यक्ति के धन में वृद्धि की जाए।

डॉ. अंदानी दूसरों की मदद करने में कभी नहीं हिचकिचाते हैं। उनका मुख्य उद्देश्य गरीबी से उबरने के लिए सभी के जीवन में सुधार करना है और एक लोगों को एक बेहतर जीवन देना है। उनका लक्ष्य सभी जरूरतमंद लोगों को सर्वोत्तम शिक्षा देना हैं क्योंकि उनके अनुसार शिक्षा से जीवन शैली को बदला जा सकता है।
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a Comment

Ads Post 1

Ads Post 2

Ads Post 3

Ads Post 4