Trending

महिला उद्यमियों के सशक्तिकरण के लिए वूमन एंटरप्रेन्योरशिप प्लेटफॉर्म व ट्रांसयूनियन सिबिल ने शुरू किया प्रोग्राम 'सहर'

साणंद (गुजरात) मुख्यालय वाली ममता मशीनरी लिमिटेड ने सेबी के समक्ष दाखिल किया ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी)

नेक्स्ट भारत वेंचर्स – सुजुकी की पहल, भारत के उद्यमियों को सशक्त बनाने और नेक्स्ट बिलियन भारतीयों की समस्याओं का समाधान करने के लिए 340 करोड़ रुपये का फंड लॉन्च

एनवायरो इंफ्रा इंजीनियर्स लिमिटेड ने सेबी के पास दाखिल किया ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी)

जानी-मानी कैंसर विशेषज्ञ डॉ. (प्रोफेसर) ज्योति बाजपेयी ने लीड-मेडिकल एंड प्रिसिजन ऑन्कोलॉजी (मुंबई और महाराष्ट्र क्षेत्र) के रूप में अपोलो कैंसर सेंटर ज्वॉइन किया।

एसआरएल डायग्नोस्टिक्स ने पटना में लॉन्च की अत्याधुनिक लेबोरेटरी

 

 --- नई लैब को कोविड आरटीपीसीआर परीक्षण के लिए मान्यता प्राप्त है और यह बिहार राज्य में एसआरएल की छठी लैब है 

फरवरी 2022: भारत के सबसे बड़े डायग्नोस्टिक्स सर्विस प्रोवाइडर, एसआरएल डायग्नोस्टिक्स ने आज पटना, बिहार में एक नई लेबोरेटरी के लॉन्च की घोषणा की। यह अत्याधुनिक लेबोरेटरी, एक महीने में 30,000 से अधिक साधारण नियमित परीक्षण तथा अर्ध-विशिष्ट और विशिष्ट परीक्षण करने की क्षमता से परिपूर्ण है। 

क्वालिटी डायग्नोस्टिक सर्विसेस की बढ़ती मांग को सर्वोपरि रखते हुए, एसआरएल ने बिहार राज्य में अतिरिक्त लेबोरेटरी की नींव रखकर अपनी क्षमताओं के विस्तार को रफ्तार प्रदान की है। पटना के नागरिकों को अब एसआरएल के व्यापक परीक्षण मेनू की आसान पहुँच उपलब्ध होगी, जिसमें 3500 से अधिक परीक्षण और अच्छी तरह से क्यूरेटेड निवारक स्वास्थ्य देखभाल पैकेज शामिल हैं। फुलवारी शरीफ की इस लैब को भी एनएबीएल से मान्यता प्राप्त है और आईसीएमआर को कोविड-19 परीक्षण के लिए मंजूरी प्राप्त हुई है।

एसआरएल डायग्नोस्टिक्स के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर श्री आनंद के. कहते हैं, "एसआरएल, समूचे बिहार राज्य में एक मजबूत लेबोरेटरी और पेशेंट सर्विस नेटवर्क स्थापित करने में सक्षम रहा है। वर्तमान में हम 5 लैब्स और 100 से अधिक संग्रह केंद्रों का संचालन कर रहे हैं। यह लॉन्च हमारी रणनीति का बखूबी तालमेल है, जिसमें हमारे प्राथमिकता वाले बाजारों में एसआरएल की उपस्थिति को मजबूत करना शामिल है। नई लेबोरेटरी हमें पटना के नागरिकों की कम समय में बेहतर सेवा करने में मदद करेगी। मरीजों को मूलभूत सुविधाएँ प्रदान करने के उद्देश्य से हम उन्हें घर पहुँच सेवा देने के लिए भी दृढ हैं।"

2500 वर्ग फुट में फैली उन्नत लेबोरेटरी में हेमटोलॉजी, बायोकैमिस्ट्री, क्लिनिकल पैथोलॉजी, सीरोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, हिस्टोपैथोलॉजी और मॉलिक्यूलर बायोलॉजी सहित कई महत्वपूर्ण विभाग हैं। लेबोरेटरी प्लॉट नं. 1089 (अंश), तौजी नं. 355, खाता नं. 162, थाना 26, थाना फुलवारी शरीफ, पटना, बिहार में स्थित है। ग्राहक 80804 44255 पर कॉल करके या एसआरएल वेबसाइट या मोबाइल ऐप के जरिए आसानी से परीक्षण हेतु बुकिंग कर सकते हैं।

श्री आनंद आगे कहते हैं, "महामारी ने प्रारंभिक डायग्नोसिस, रोग प्रबंधन और समग्र बेहतर स्वास्थ्य की देखरेख के लिए उत्कृष्ट प्रयोगशाला अंतर्दृष्टि के महत्व को उजागर किया है। एसआरएल डायग्नोस्टिक्स देश भर में 25 से अधिक मान्यता प्राप्त और आईसीएमआर अनुमोदित लैब्स के माध्यम से कोविड-19 परीक्षण सेवाएँ प्रदान कर रहा है। ग्राहकों को अधिकतम सुविधा प्रदान करने के लिए हमारी समस्त टीमों को गहराई से प्रशिक्षण दिया जाता है और हम बिहार के नागरिकों को उच्च गुणवत्ता परीक्षण और संबंधित रिपोर्ट्स प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।"

इस नई लेबोरेटरी के वजूद ने, एसआरएल के तहत पूरे बिहार में 6 लैब्स और 100 संग्रह केंद्रों का एक मजबूत नेटवर्क स्थापित किया है। एसआरएल डायग्नोस्टिक्स अपने इस नेटवर्क के चलते मरीजों, डॉक्टरों और अस्पतालों के लिए लेबोरेटरी की पहली पसंद बनने के लिए प्रयासरत है।


Post a Comment

Previous Post Next Post

Contact Form